मंगलवार, 8 अप्रैल 2008

बैंगलूरू में आयोजित एक रेव पार्टी एवं फैशन शो द्वय का नज़ारा


























































































































































क्या आप कुछ कहना चाहेंगे?
...................................
................................ !!!
क्या आज़ादी का अर्थ यही है?





























































































































8 टिप्‍पणियां:

Shakadal ने कहा…

See Please Here

बेनामी ने कहा…

बॉस यह फोटो आज से करीब एक साल पहले की है और जहां तक मुझे पता है यह पूना की पार्टी की है

डॉ दुर्गाप्रसाद अग्रवाल ने कहा…

कुछ लोग अपनी तरह से ज़िन्दगी जी रहे हैं, यह उनकी आज़ादी है. इससे औरों के/हमारे पेट में क्यों दर्द होना चाहिए? यह भी विचार करें कि उनकी इस पार्टी के चित्रों को सार्वजनिक करना कहां तक नैतिक है?

Udan Tashtari ने कहा…

देख कर लगता है कनाडा/अमरीका मीलों पीछे छूट गये हैं जिनको इन्होंने फोलो करना शुरु किया था...हम्म!!!

PD ने कहा…

mujhe ye photo 1 saal pahle mila tha ye kahkar ki ye pune ki rave parti hai.. fir aaya ki ye NRI ki parti ka hai.. ab aap bata rahe hain ki ye bainlore ki hai..

are bhai koi to sahi sahi bata do.. :(
:D

आशीष कुमार 'अंशु' ने कहा…

तस्वीर एक साल पुरानी है, और यह पार्टी पुणे की है, ना कि बैंगलूरू की. जैसी जानकारी देने के लिय साधुवाद, लेकिन सवाल यह नहीं है कि इस तरह कि पार्टी पुणे में हो रही है या बैंगलूरू में या अहमदाबाद में. सवाल यह था कि क्या वेस्टर्न कन्ट्रीज की नकल करना कितना ठीक है?

जहां तक तस्वीरों कि प्रमाणिकता की बात है तो यह तस्वीर मुझे बीबीसी, दिल्ली के संवाददाता जनाब अब्दुल वाहीद आज़ाद की जानिब से वाया युवा पत्रकार अफ़रोज आलम 'साहिल' से मिली. आप चाहे तो अतिरिक्त जानकारी के लिय युवा पत्रकार अफ़रोज आलम 'साहिल' से बात भी कर सकते हैं - 09891322178

jan chetna ने कहा…

yeh koi nayi baat nahi hai... aisi party har din apne 'india' mein kahin na kahin hote rahte hain.... jis se hum 'bharat' ke log anjan hain....

jan chetna ने कहा…

yeh koi nayi baat nahi hai... aisi party har din apne 'india' mein kahin na kahin hote rahte hain.... jis se hum 'bharat' ke log anjan hain....

आशीष कुमार 'अंशु'

आशीष कुमार 'अंशु'
वंदे मातरम