गुरुवार, 23 जुलाई 2009

चाँद का किरदार काला हो गया ....

3 टिप्‍पणियां:

संगीता पुरी ने कहा…

बडी लेट हो गए आप !!

Nidhi ने कहा…

Hey Ashish,
It is good but one advice try to write in bit larger fonts, it will be effective.

NILAMBUJ SINGH ने कहा…

वाह चिराग भाई क्या कविता लिखी है यार.

आशीष कुमार 'अंशु'

आशीष कुमार 'अंशु'
वंदे मातरम