रविवार, 6 जुलाई 2008

दुनिया का नंबर वन अखबार

आज ही उत्तरांचल से लौटकर आया हूँ। वही इस बात की जानकारी हुई कि जिस अखबार को मैं वर्षों से जानता हूँ, वह दुनिया का नंबर वन अखबार है।
अब इस सम्बन्ध में ब्लॉग साथियों को कुछ फूरा रहा हो तो बेलाग बोलें।
(यह तस्वीर ब्लॉग के लिए युवा पत्रकार रवि प्रकाश टांक ने उपलब्ध कराई hai। )

4 टिप्‍पणियां:

SHUAIB ने कहा…

हां, नज़र तो यही आरहा है, लिखा है कि ये नम्बर वन हखबार है।

अनुनाद सिंह ने कहा…

जी हाँ, यह सही है। इसमें आश्चर्य करने वाली कोई बात नहीं है।

कल ही मुझे पता चला कि टाइम्स आफ इण्डिया, विश्व का अंग्रेजी का सबसे बड़ा अखबार है। लेकिन आपको आश्चर्य होगा कि यह भारत के दस बड़े अखबारों में भी शामिल नहीं है।

है न विचित्र बात!!

Chiranjiv ने कहा…

बडी खुशी हुई जानकर कि आप उतरान्चल से लौट कर वापस आ गये. ये खबर भी आप ब्लोग पर लोगो को बता रहे हैं. वहां सब बच्चे एक साथ फोटो खिचवाये कि अलग अलग?
धन्यवाद!! ऐसे हि आप अपनी हर यात्रा के बारे मे बताते रहियेगा.

Rajesh Roshan ने कहा…

कोई ताजुब नही... दैनिक जागरण विश्व का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला अखबार है वह भी किसी भी भाषा का....
मैं दैनिक जागरण का पिछले ३ साल से कर्मचारी हू

IRS २००८ एंड NRS २००८ सर्वे पढ़ लीजिये

आशीष कुमार 'अंशु'

आशीष कुमार 'अंशु'
वंदे मातरम