शनिवार, 30 मई 2009

क्या ' कहानी' हो सकती है??????????


इस बार सिवनी (मध्य प्रदेश) जिलान्तर्गत लखनादोन जाना हुआ. वही भटकते-भटकते यह मील का का पत्थर दिखा. बात जमी. वाह कोई इसी जगह भी हो सकती है जिसका नाम कहानी हो. 'कहानी' की 'कहानी' कभी और अभी मील का पत्थर ...

3 टिप्‍पणियां:

Abhishek Mishra ने कहा…

'कहानी' का इंतजार है.

मुसाफिर जाट ने कहा…

अंशु जी, जब कहीं नयी जगह पर जाते हैं तो ऐसे ही नाम दीखते हैं.
इनकी कहानी पूछनी हो तो उस जगह के एकाध बूढों से मिलो.

CHANDIDUTTSHUKLA ने कहा…

ACHCHI KAHANI HAI BHAI....

आशीष कुमार 'अंशु'

आशीष कुमार 'अंशु'
वंदे मातरम