बुधवार, 6 जून 2007

पुरानी यादे ताज़ा करो।

मछली जल की रानी है,
जीवन उसका पानी है।
हाथ लगाओ डर जायेगीबाहर निकालो मर जायेगी।
पोशाम्पा भाई पोशम्पा,
सौ रुपये की घडी चुराई।
अब तो जेल मे जाना पडेगा,
जेल की रोटी खानी पडेगी,
जेल का पानी पीना पडेगा।
थै थैयाप्पा थुशमदारी बाबा खुश।
झूठ बोलना पाप है,
नदी किनारे सांप है।
काली माई आयेगी,
तुमको उठा ले जायेगी।

आज सोमवार है,चूहे को बुखार है।
चूहा गया डाक्टर के पास,डाक्टर ने लगायी सुई,
चूहा बोला उईईईईई।आलू-कचालू बेटा कहा गये थे,बन्दर की झोपडी मे सो रहे थे।बन्दर ने लात मारी रो रहे थे,मम्मी ने पैसे दिये हंस रहे थे।तितली उडी, बस मे चढी।सीट ना मिली,तो रोने लगी।।driver बोला आजा मेरे पास,तितली बोली " हट बदमाश "।चन्दा मामा दूर के,पूए पकाये भूर के।आप खाएं थाली मे,मुन्ने को दे प्याली मे।

3 टिप्‍पणियां:

xyz ने कहा…

i liked it really

Yatish Jain ने कहा…

Maza aagaya

dj ने कहा…

Badiya ,Lage rahe ,Hame aap se is se acche ki ummid hai,kaam jaari rakhe.

आशीष कुमार 'अंशु'

आशीष कुमार 'अंशु'
वंदे मातरम